यूपी सरकार ने ई-गन्ना ऐप, वेब पोर्टल लॉन्च किया

यूपी सरकार ने ई-गन्ना ऐप, वेब पोर्टल लॉन्च किया

न्यूज़ से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य:

  • उत्तर प्रदेश सरकार ने गन्ना किसानों की सहूलियत के लिए “ई-गन्ना एप” (E-Ganna) लॉन्च किया है. इस एप के जरिए गन्ना बकाया भुगतान समेत गन्ना किसानों की कई समस्याओं का समाधान आसानी से हो सकेगा.
  • इस एप के जरिये किसान अब सीधे गन्ने की बिक्री और दूसरी सूचनाओं के बारे में ऑनलाइन जानकारियां जुटा सकेंगे. इस एप के माध्यम से किसान गन्ना बेचने, सर्वे डेटा, गन्ने से जुड़ी सरकारी सूचनाएं (प्री कैलेंडर), बेसिक कोटा और गन्ने की पर्ची से जुड़ी जैसी सभी जानकारियां प्राप्त कर सकते है.
  • राज्य के प्रमुख सचिव (गन्ना एवं चीनी) संजय भूसरेड्डी ने कहा कि इस व्यवस्था में चीनी मिलों पर किसी प्रकार की निर्भरता नही रहेगी एवं मिलों का अनावश्यक हस्तक्षेप नही हो पायेगा. गन्ना किसानों की शिकायतों को दूर करने के लिए यूपी सरकार ने मोबाइल एप के अलावा वेब पोर्टल ( caneup.in) के साथ-साथ इनक्वायरी टर्मिनल भी स्थापित किये गये है. गन्ना विभाग द्वारा मुख्यालय पर टोल-फ्री नम्बर 1800-121-3203 की व्यवस्था की गयी है.
  • उन्होंने कहा कि गन्ना ईआरपी व्यवस्था के तहत विकसित किये गये वेब- पोर्टल ( caneup.in) “ई-गन्ना” एप और तौल की पारदर्शी व्यवस्था होने से माफियाओं और बिचौलियों पर अंकुश लगेगा. किसानों को समिति कार्यालय के चक्कर नही काटने पडे़गे और घर बैठे सारी जानकारी उन्हें प्राप्त हो सकेंगी.
  • सरकार के इस कदम से गन्ना माफिया बाहर होंगे, पर्चियों की कालाबाजारी नहीं हो पाएगी. गन्ने की घटतौली पर भी अंकुश लगेगा. सरकार का दावा है कि इस कदम से प्रदेश के करीब 50 लाख किसानों को फायदा होगा. राज्य में 28
    लाख हेक्टेयर के आसपास गन्ने की खेती हो रही है.

उपरोक्त समाचार पर आधारित अति महत्वपूर्ण संभावित प्रश्नावली:

  1. हाल ही में किस राज्य सरकार ने गन्ना किसानों की सहूलियत के लिए “ई-गन्ना एप” (E-Ganna) लॉन्च किया है? उत्तर प्रदेश
  2. उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा गन्ना किसानों की सहूलियत के लिए हाल ही में लॉन्च किए गए आप का क्या नाम है? ई-गन्ना

Click here to read in English

One comment

NO COMMENTS:

Your email address will not be published. Required fields are marked *