सऊदी अरब और रूस ने विभिन्न क्षेत्रों में समझौतों किए: 15.10.2019

सऊदी अरब और रूस ने विभिन्न क्षेत्रों में समझौतों किए

न्यूज़ से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य:

  • सऊदी अरब और रूस ने दुनिया के तेल दिग्गजों के बीच सहयोग को बढ़ावा देने के लिए एक महत्वपूर्ण समझौते पर हस्ताक्षर किए
  • सऊदी अरब के ऊर्जा मंत्री अब्दुलअजीज बिन सलमान अल सऊद ने हस्ताक्षर कार्यक्रम के दौरान कहा कि दोनों देशों ने दोनों पक्षों के लिए समृद्धि और प्रगति हासिल करने के उद्देश्य से सहयोग और एकीकरण का एक नया दौर शुरू
    किया है।
  • उन्होंने कहा, “सऊदी-रूसी संयुक्त समिति में, हम सामंजस्य बनाने, देश के विजन 2030 के उद्देश्य .. रूस के रणनीतिक विकास योजनाओं के उद्देश्यों को हासिल करने के लिए साथ मिलकर काम कर रहे हैं और परिणामस्वरूप,
    सऊदी-रूसी उच्च-स्तरीय रणनीतिक सहयोग समझौतों का आज यहां आदान-प्रदान किया जा रहा है।”
  • सौदों के बीच सबसे महत्वपूर्ण समझौता रहा ओपेक (OPEC) + देशों — पेट्रोलियम निर्यातक देशों के संगठन और कार्टेल के 10 गैर-सदस्यों के बीच सहयोग को बढ़ाने के लिए ।

ओपेक (OPEC) के बारे में:

  • पेट्रोलियम निर्यातक देशों का संगठन (ओपेक)
  • मुख्यालय: वियना, ऑस्ट्रिया
  • प्रकार: अंतर्राष्ट्रीय कार्टेल
  • महासचिव: मोहम्मद बरकिंडो
  • सदस्यता: 14 राज्य (जनवरी 2019)
    • एलजीरिया
    • अंगोला
    • कांगो
    • इक्वेडोर
    • भूमध्यवर्ती गिनी
    • गैबॉन
    • ईरान *
    • इराक *
    • कुवैत *
    • लीबिया
    • नाइजीरिया
    •  सऊदी अरब*
    •  संयुक्त अरब अमीरात
    •  वेनेजुएला *
      * -संस्थापक सदस्य

उपरोक्त समाचार पर आधारित अति महत्वपूर्ण संभावित प्रश्नावली:

  1. रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने एक प्रमुख यात्रा के दौरान किस देश के साथ वैश्विक तेल की कीमतों को स्थिर करने के उद्देश्य से एक महत्वपूर्ण समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं? सऊदी अरब
  2. ओपेक का क्या मतलब है? पेट्रोलियम निर्यातक देशों का संगठन
  3. ओपेक के वर्तमान महासचिव कौन हैं? मोहम्मद बरकिंडो

NO COMMENTS:

Your email address will not be published. Required fields are marked *