सुप्रीम कोर्ट के वकील एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री राम जेठमलानी का 95 वर्ष की आयु मे निधन

सुप्रीम कोर्ट के वकील एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री राम जेठमलानी का 95 वर्ष की आयु मे निधन

न्यूज़ से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य:

  • सुप्रीम कोर्ट के वकील और पूर्व केंद्रीय मंत्री राम जेठमलानी का 95 वर्ष की आयु में दिल्ली में उनके आवास पर निधन हो गया।
  • वह पिछले दो सप्ताह से अपनी बीमारी से जूझ रहे थे।
  • जेठमलानी ने अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार में कानून मंत्री और शहरी मामलों के मंत्री के रूप में कार्य किया था।
  • 14 सितंबर, 1923 को सिंध प्रांत के सिखपुर में जन्मे, राम जेठमलानी भारत के सर्वोच्च न्यायालय में सबसे अधिक भुगतान वाले वकीलों में से एक थे और कई उच्च प्रोफ़ाइल आपराधिक मामलों में पेश हुए थे।
  • उन्होंने भारत के केंद्रीय कानून मंत्री के रूप में भी काम किया था तथा सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष भी थे।
  • जेठमलानी ने भारत के राष्ट्रपति पद के लिए अपनी उम्मीदवारी की भी घोषणा की थी और 1987 में अपने स्वयं के राजनीतिक मोर्चे, “भारत मुक्ति मोर्चा” का शुभारंभ किया।
  • 1995 में उन्होंने अपनी खुद की राजनीतिक पार्टी लॉन्च की जिसका नाम “पवित्र हिंदुस्तान काज़गम” था।

राम जेठमलानी द्वारा ने संभाला 10 हाई प्रोफाइल केस:

1. नानावती केस
2. आपातकाल के दौरान चुनौतियों का सामना करना
3. इंदिरा गांधी हत्या कांड
4. राजीव गांधी हत्या कांड
5. स्टॉक मार्केट घोटाला
6. संसद हमले का मामला
7. जयललिता अनुपातहीन संपत्ति मामला
8. जेसिका लाल हत्या कांड
9. 2 जी स्पेक्ट्रम घोटाला
10. काले धन का घोटाला

उपरोक्त समाचार पर आधारित अति महत्वपूर्ण संभावित प्रश्नावली:

  1. सुप्रीम कोर्ट के वकील और पूर्व केंद्रीय मंत्री का नाम बताइए जिनका हाल ही में निधन हो गया? राम जेठमलानी
  2. उस राजनीतिक दल का नाम क्या है जिसे राम जेठमलानी ने वर्ष 1995 में गठन किया था? पवित्र हिंदुस्तान काज़गम
  3. जेठमलानी ने किस वर्ष में भारत के राष्ट्रपति पद के लिए अपनी उम्मीदवारी की घोषणा की और अपने स्वयं के राजनीतिक मोर्चे, “भारत मुक्ति मोर्चा” का गठन किया? 1987

NO COMMENTS:

Your email address will not be published. Required fields are marked *