हीरानंदानी ग्रुप का एच-एनर्जी रूस के नोवाटेक से एलएनजी खरीदने को राज़ी: 17.9.2019

हीरानंदानी ग्रुप का एच-एनर्जी रूस के नोवाटेक से एलएनजी खरीदने को राज़ी

न्यूज़ से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य:

  • हीरानंदानी ग्रुप के एच-एनर्जी ने दीर्घकालिक आधार पर रूस के नोवाटेक से तरलीकृत प्राकृतिक गैस (एलएनजी) खरीदने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं।
  • पीएम नरेंद्र मोदी के रूस पहुंचने के घंटों बाद इस सौदे की घोषणा की गई।
  • नोवाटेक और एच-एनर्जी आपसी साझेदारी के साथ साथ भारत, बांग्लादेश और अन्य बाजारों में रूसी एलएनजी के विपणन के लिए एक संयुक्त उद्यम स्थापित करने की भी योजना बना रही है |
  • कंपनी ने हालांकि हस्ताक्षरित गैस की मात्रा का खुलासा नहीं किया।
  • एच-एनर्जी ने जयगढ़ (महाराष्ट्र), काकीनाडा (आंध्र प्रदेश) और हल्दिया (पश्चिम बंगाल में) में एलएनजी टर्मिनल बनाए हैं।

नोवाटेक के बारे में:

  • नोवाटेक रूस की दूसरी सबसे बड़ी प्राकृतिक गैस उत्पादक है, और प्राकृतिक गैस उत्पादन की मात्रा के हिसाब से दुनिया की सातवीं सबसे बड़ी सार्वजनिक रूप से कारोबार करने वाली कंपनी है।
  • कंपनी को मूल रूप से OAO FIK Novafininvest के नाम से जाना जाता था।
  • संस्थापक: लियोनिद मिखेलसन
  • स्थापित: अगस्त 1994
  • मुख्यालय: टार्को-सेल, रूस
  • सहायक: आर्कटिक एलएनजी 2, नॉर्थगैस, अर्कटिकगाज़, आर्कटिक एलएनजी 3, आदि।

उपरोक्त समाचार पर आधारित अति महत्वपूर्ण संभावित प्रश्नावली:

  1. किसने रूस के नोवाटेक से दीर्घकालिक प्राकृतिक गैस (एलएनजी) को दीर्घकालिक आधार पर खरीदने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं? एच-एनर्जि
  2. एलएनजी कंपनी, नोवाटेक किस देश से संबंधित है? रूस

NO COMMENTS:

Your email address will not be published. Required fields are marked *