इंटरनेट ऑफ थिंग्स इंडिया कांग्रेस-2019 का आयोजन

इंटरनेट ऑफ थिंग्स इंडिया कांग्रेस-2019 का आयोजन

न्यूज़ से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य:

  • देश में डिजिटल प्रौद्योगिकी से जुड़े अवसरों की तलाश के लिए इंटरनेट ऑफ थिंग्स इंडिया कांग्रेस का आयोजन 22-23 अगस्त को बेंगलुरू में किया जाएगा।
  • इसमें आईओटी को मुख्यधारा में लाने की संभावनाओं के बारे में विचार-विमर्श किया जाएगा। आईओटी कांग्रेस में स्वास्थ्य, विनिर्माण, दूरसंचार, स्मार्ट शहर, ऊर्जा, खुदरा, साइबर सुरक्षा, कौशल एवं विकास, आईओटी मानक, विधि एवं नियामकीय और कृषि जैसे क्षेत्रों में भी प्रौद्योगिकी के उपयोग की संभावनाओं पर विचार किया जाएगा। इंस्टीट्यूशन ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी (आईईटी) की आईओटी समिति ने आगामी चौथे आईओटी इंडिया कांग्रेस के संबंध में प्रेस वार्ता में यह जानकारी दी।
  • इस मौके पर वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय में विशेष लॉजिस्टिक सचिव एन. शिवसेलम ने कहा कि आईओटी को लागत प्रभावी और बड़े बाजार के लिए उपयोगी बनाना मुख्य ध्यान होना चाहिए। साथ ही कौशल विकास भी आईओटी के पारिस्थितिकी तंत्र के निर्माण में अहम भूमिका अदा करेगा।
  • इस वर्ष की थीम ‘मेनस्ट्रीमिंग द इंटरनेट ऑफ थिंग्स’ थी।
  • श्रीमती अरुणा सुंदरराजन (आईटी एव इलेक्ट्रॉनिक्स विभाग, दूरसंचार विभाग के सचिव), अरविंद तिवारी, (अध्यक्ष आईओटी फोरम, टीआईई) और डॉ। धनंजय डेंडुकुरी, (सीईओ और सह-संस्थापक, अचिरा लैब्स) को आईओटी में उनकी उत्कृष्टता और नेतृत्व के लिए पहचाना गया। उन्हें सर रॉबिन सक्सबी, प्रौद्योगिकी उद्यमी, पूर्व-संस्थापक सीईओ और अध्यक्ष, एआरएम होल्डिंग्स पीएलसी से थॉट लीडरशिप अवार्ड्स मिले।
  • दो दिवसीय कार्यक्रम का उद्घाटन भारत सरकार के इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के सचिव श्री अजय प्रकाश साहनी द्वारा किया गया

इंटरनेट ऑफ थिंग्स इंडिया कांग्रेस के बारे में:

  • इंटरनेट ऑफ थिंग्स इंडिया कांग्रेस एक प्रमुख कार्यक्रम है जो द इंस्टीट्यूशन ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी (IET) द्वारा आयोजित किया जाता है।
  • स्वास्थ्य एव परिवार कल्याण मंत्रालय, इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय, दूरसंचार विभाग, नीति अयोग – भारत के सर्वोच्च नियोजन निकाय ने इस कार्यक्रम का समर्थन किया है।

इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी संस्थान के बारे में: 

  • IET कार्यालय ने भारत में 2006 में बंगलौर में परिचालन शुरू किया। आज, 13,000 से अधिक सदस्य हैं और यूके के बाहर IET के लिए सबसे बड़ा सदस्यता आधार है।

कर्नाटक के बारे में: 

  • मुख्यमंत्री: बी.एस. येदियुरप्पा
  • राज्यपाल: वजुभाई वाला
  • राजधानी: बेंगलुरु

उपरोक्त समाचार पर आधारित अति महत्वपूर्ण संभावित प्रश्नावली:

  1. इंटरनेट ऑफ थिंग्स (IoT) इंडिया कांग्रेस 2019 का विषय क्या है? ‘मेनस्ट्रीमिंग द इंटरनेट ऑफ थिंग्स’

Click here to Read in English

Read More at The Week

NO COMMENTS:

Your email address will not be published. Required fields are marked *